है आसमां को हसरतें हौसले आज़माने की
मुमकिन है की तुम खुद को कभी तनहा पाओ
याद बस यह रखना कि
उम्मीदें उनको भी थी तुमसे जो आज हैं चले गये ..

Lazeez exclusive content
4218

Hindi |
arrow-leftarrow-right