तू अंधेरों के सफ़र में हमसफ़र ढूँढने चला है नादां
हमने रौशनी में भी सायो को कतराते देखा हैं ..

211

Hindi |