Today is International Day of Yoga

Click here to read related text


ਸ਼ਬਦ - ਗੁਰੂ ਤੇ ਫੁੱਲ ਚੜਾਉਣਾ ਸਿੱਖ ਲਿਆ ॥
ਜਾ ਭਾਈ ਕਿਤੋਂ ਲਭ ਕੇ ਸਿੱਖ ਲਿਆ ॥

00

Punjabi |

Teri mehfil ke dastoor-e-dum
mujhe khamosh hi rehne de humdum
aisa na ho yeh chaman sulagne lage..

12

Urdu |

Ghumakkad hun aaj bhi,
kuch aisi hi fitrat hai,
har manzil ke baad
main fir karwaan mein hun..

घुमक्कड़ हूँ आज भी ,
कुछ ऐसी ही फितरत है ,
हर मंज़िल के बाद
मैं फिर कारवां में हूँ ..

30

Hindi |

CBSE का paper leak होना
अजी बेगुनाहों से जानिये
कि दुष्वार है दोबारा pass होना
Cricket देखिये
ball-tampering या fixing पर
re-match नहीं होते ..

00

Hindi |

बच्चा - पापा मैंने Scissor से Paper Cutting सीख ली है
अब कौन सी cutting सीखूँ ?
पापा - Hair Cutting & become a Good Barber ..

85

Hindi |

Great days are yet to come and
Great stories are yet to be written..
Have a Great Year 2018..

30

English |

हसरतों - ख़्वाहिशों को हक़ीक़त कर दे
कर दे आसमां सी हैसियत
है इस शहर में सब कुछ मुमकिन
फक़त साफ़ हवा और पानी को छोड़ के ..

00

Hindi |

Kaale dhooye mein woh ek kiran si lagti thi
woh ladki mujhe shabnam si lagti thi
raha rokta hawa ke har jhonke ko main
woh naazuk si boond giri kyonki
meri aakhri saans kuch beparwah nikli..

21

Hindi |

कैसे माला गून्थु मैं

कोमल फूलों के सीने से
कैसे सुई पार करू मैं
हस्ती-गाती फुलवारी को
कैसे आखिर वीरान करूं मैं
नहीं समझ में आता मालिक
कैसे माला गून्थु मैं
इस बार बड़ी बरसात हुई

जिन पुष्पों को बढ़ते देखा
मंद धुप में खिलते देखा
अपने इन हाथों से जिनको सींचा
अब कैसे उनपर वार करूं मैं
नहीं समझ में आता मालिक
कैसे माला गून्थु मैं
इस बार बड़ी बरसात हुई

जिनकी भीनी खुशबू में खेला
तितलियों को जिनपर थिरकते देखा
अब माला एक पिरोने को
कैसे उनको हलाल करूं मैं
नहीं समझ में आता मालिक
कैसे माला गून्थु मैं
इस बार बड़ी बरसात हुई..

20

Hindi |

Aksar bhool jaata hun tujhe
zamaane ki bheed mein
badzaatee aisi ki khud ko
insaan kahu bhi to kaise..

11

Persian |

Cooking is good
when it's not about stories..

00

English |