जो देखता हूँ वही बोलने का आदी हूँ
मैं अपने शहर का सबसे बड़ा फ़सादी हूँ.. - शकील शाह

64

Hindi |
arrow-leftarrow-right